firstnews9

एक बार फिर  दिखी टोल कर्मियों की गुंडागर्दी, दो भाइयों को पीटा, पीजीआई रेफर

सोनीपत. हरियाणा के सोनीपत में एक बार फिर टोल कर्मचारियों की गुंडागर्दी सामने आई है. सोनीपत से गुजरने वाले केजीपी पर गांव जखोली के पास बनाए गए टोल प्लाजा पर टोल कर्मचारियों ने मारपीट की है. बताया जा रहा है कि झज्जर जिले के रहने वाले दो सगे भाई अपनी बहन के शादी का लगन लेकर उत्तर प्रदेश जा रहे थे और टोल फीस को लेकर विवाद हो गया. इसके बाद झगड़े की लाइव तस्वीर भी सामने आई हैं. कुंडली थाना पुलिस ने मामले में जाच शुरू कर दी है.

दरअसल, टोल कर्मचारियों ने गाड़ी सवारों के साथ मारपीट की. इतना ही नहीं जब टोल कर्मचारियों को मारपीट में हाथ पैर से काम नहीं चला तो पत्थर और लोहे की राड भी उठा ली और गाड़ी सवारों पर हमला कर दिया.

जानकारी के अनुसार, झज्जर जिले के सिवान गांव के रहने वाले संजीत और उसका भाई अपने रिश्तेदारों के साथ अपनी बहन की शादी का लगन देने उत्तर प्रदेश के अमरोहा जा रहे थे और जब यह युवक टोल प्लाजा पर पहुंचे तो इनके साथ  कर्मचारियों ने बदतमीजी की और फिर कार में सवार युवकों से मारपीट की गई. हालांकि, कार सवार ने भी कर्मचारियों के साथ मारपीट की है.

घायल संजीत ने बताया है कि आर्मी का आई कार्ड दिखाने के बाद भी वह नहीं माने और उन्होंने बदतमीजी शुरु कर दी थी. वह दो गाड़ियों में सवार होकर अपनी बहन का लगन देने के लिए जा रहे थे. दोनों भाइयों की हालत गंभीर है और इलाज के लिए रोहतक की जय रेफर कर दिया गया है.

Sonipat: एक बार फिर दिखी टोल कर्मियों की गुंडागर्दी, दो भाइयों को पीटा, पीजीआई रेफर

कुंडली थाना प्रभारी ऋषिकांत ने बताया कि झज्जर के शिवानी के रहने वाले संजीत उत्तर प्रदेश की तरफ जा रहे थे और जब वह केपी पर जाखोली टोल पर पहुंचे तो उन्होंने आर्मी का आई कार्ड दिखाए, लेकिन टोल कर्मचारी नहीं माने और इसी बात को लेकर झगड़ा शुरू हो गया. टोल कर्मचारियों और कार सवारों में जमकर मारपीट हुई है. मामले में सीसीटीवी फुटेज चेक की जाएगी और उसी के आधार पर कार्रवाई होगी.

Tags: Government of Haryana, Haryana BJP, Haryana news live, Haryana News Today, Sonipat news today

Source link

7k network
Recent Posts

ગુજરાત પ્રદેશ કોંગ્રેસ સમિતિના મહામંત્રી દર્શનકુમાર નાયક દ્વારા ધી ભિતખુર્દ દૂધ મંડળીમાં ગેરવહીવટ મામલે મુખ્યમંત્રી, અધિક સચિવ અને રાજ્યના સહકારી મંડળીઓના રજિસ્ટ્રારને રજૂઆત કરાઈ